साथ साथ

......... साथ साथ....... प्रतिभा प्रसाद कुमकुम जमशेदपुर

________________________________________________

प्रथम मिलन पर जो तुम ने

थामा मेरा हाथ

बिजली सी कुछ दौड़ गई

हम दोनों थे साथ 

चुम्बकीय आकर्षण हुआ

मिले हम दिन रात

प्रथम मिलन की बेला थी

लिए साथ मधुमास

अंतस से झर रही 

नेह सुधा रस धार

ऐसे ही रहना सदा 

देना मेरा साथ

वन उपवन सम 

जीवन सुहानी

समग्र खुशबू फैलाए

तम को सदा सर्वदा

जीवन से दूर भगाए

आओ मिलकर 

प्रण कर लेते

जीवन में हो मधुमास

हाथ में हो हाथ

सदा रहे तुम्हारा साथ ।।

🌹प्रतिभा प्रसाद कुमकुम जमशेदपुर।

     28.4.17....सर्वाधिकार सुरक्षित ।

________________________________________________

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹